Home Bhajan बाबा रे दरबार में | Karam SIngh Anokha , Shalu yaswant Singh...

बाबा रे दरबार में | Karam SIngh Anokha , Shalu yaswant Singh | Lyrics

करम सिंह अनोखा और शालू यशवंत सिंह की आवाज में बाबा रे दरबार में सॉन्ग रामदेव जी का राजस्थानी भजन हैं । इस गीत का म्यूजिक राजू भारती ने कंपोज किया व निर्देशक सज्जन सिंह गहलोत हैं। मारवाड़ी एल्बम का सॉन्ग पी.आर.जी म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत हुआ हैं।

पैदलयात्री बाबा के दरबार रूणिचा जा रहे हैं और जगह जगह भंडारे लगे वहां पर किसी चीज कमी नहीं हैं। बाबा के की कृपा से भक्तो के कार्य सिद्ध हो रहे हैं। हर साल लाखो यात्री बाबा के दरबार रूणिचा आते और बाबा के चरणों में अपना शीश निवाते हैं। बाबा की महिमा निराली हैं।

Baba Re Darbaar Me Song Lyrics

बाबे रे भंडारे में कमी नहीं कोई बात
छम छम नाचे देखो बाबे रा जात्री

देवरा पर घूमंद पर ध्वजा रंग साहब री
छम छम नाचे न्यू नाचे थारा जात्री

Advertisement

मेना दा रा लाल रानी नेतल रा भरतार सै
अजमल जी आया विष्णु रा अवतार सै
मन चाहया फल पावे जावे ना खाली हाथ री
छम छम नाचे न्यू नाचे थारा जात्री

दूर से पैदल चलके द्वार थारे आवे सै
मन की आशा पूरी करदे धोक लगावे सै
छम छम नाचे न्यू नाचे थारा जात्री

अन्य राजस्थानी गाने :

स्वच्छता है देश का महा अभियान |
स्वछता मे दीजिए अपना योगदान ||