Home Folk बलते काळजिये | Aasha Prajapat | Lyrics

बलते काळजिये | Aasha Prajapat | Lyrics

आशा प्रजापत की आवाज में राजस्थानी गीत बलते काळजिये एम म्यूजिक मीडिया एंटरटेनमेंट की ओर से नयी प्रस्तुति हैं। जे.एम.डी ब्रदर्स ने गीत का म्यूजिक कम्पोज किया हैं। रवि बनजारा और सोनल राइका अभिनीत गीत का निर्देशन अंशुमन आर. झा ने किया हैं।

ननद अपनी भाभी के हाथो में मेहंदी लगा रही हैं और भाभी के हाथो में लगी मेहँदी काली पड़ गई हैं। लाडला देवर अपनी के लिए गहने बनवा रहा हैं और भाभी अपने देवर की शादी नागौर में करावा रही हैं। गौरी को अपने पिया की याद सता रही हैं और ढलती मांझल रात को पिया की याद गौरी में रो रही हैं।

Balate Kaljiye Song Lyrics

नेनी नेनी मेहंदी म्हारे नणदल बाई दीनी रे
मोटोडा पतासा म्हारे शौक दीनी रे
बलते काळजिये हा बलते काळजिये हा
हाथा की मेहंदी काली पड़गी रे बलते काळजिये हा

झांझरिया घडावे देवर बिन्दोरी में नाचू रे
अरे किमणियो घडावे थारी झाल हालू रे
देवर कोडिलो हा देवर कोडिलो
तने नागाणा परणा र ल्याउ रे देवर कोडिलो

Advertisement

राते तो सासुजी थारा ताया बहारे रहे गया हो
अरे पड़ोसन रे पड़वा लारे पगलिया मंडिया हो
ओ गरजो जाया ने हा ओ गरजो जाया ने
ये पड़ोसन रे घरा ने जावे रे गरजो जाया ने

भांकर में धमीड़ा उड़े गाडो किन रो आयो रे
अरे ढाला भुला देवरिया आणावत आयो रे
लाखा जाऊली हा लाखा जाऊली
हे मोरिया भलाई गावो रे लाखा जाऊली

रात ठंडी चाँदनी खेला में ऊबी ऐकली
अरे परण्या थारा रात ने मैं रोउ ऐकली
होली रात में हा होली रात में
परण्या म्हारा मनडे माही ने

अन्य राजस्थानी गाने :

स्वच्छता का रखिए ध्यान |
स्वच्छता से देश बनेगा महान ||