Home Folk चंदियो एक प्रेम कथा | Sonam Gujari | Lyrics

चंदियो एक प्रेम कथा | Sonam Gujari | Lyrics

सोनम गुजरी की आवाज में चंदियो एक प्रेम कथा सॉन्ग राजस्थानी लोकगीत हैं। इस गीत का म्यूजिक बाबा एन.आर.जी म्यूजिक एंड फिल्म्स ने कंपोज किया व निर्देशक नीलेश वैष्णव हैं। मारवाड़ी एल्बम का सॉन्ग एन.आर.जी म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत हुआ हैं।

प्रेमी की याद में गौरी काली हो गई हैं और उसकी आँखों में से हरदम नीर निकलता रहता हैं। प्रेमी के कारण गौरी के सारे घर वाले उसके दुश्मन बन गए हैं और उसके सिबा उसकी मदद करने वाला कोई दूसरी नहीं हैं। उसके कारण गौरी ने अपने घरवालों से मुंह मोड़ लिया हैं और हमेशा के लिए अपना घर छोडके आ गई हैं।

Chandiyo Ek Prem Katha Song Lyrics

अरे चंदियो ही चंदियो करता रे म्हारो
जी बलेलो नही लागे वो
काई म्हारा चंदिया धोखो तो दियो रे

अरे थारोडे कारण म्हारा चंदिया
रोई-रोई काली पडगी रे झूर-झूर काली पडगी रे
म्हारा चंदिया धोखो तो दियो रे

Advertisement

अरे थारे तो कारण म्हारा चांडिया
घर का ही बैरी हो गया रे घर का ही दुश्मी हो गया रे
हा म्हारा चंदिया धोखो तो दियो रे

अरे लागोडी रे या लत म्हारा चंदिया
म्हारी ही लारा छूटे हो राम
म्हारा चंदिया धोखो तो दियो रे

अरे थारे तो कारण म्हारा चंदिया
घरका ने छोड़ आई ही वो
म्हारा चंदिया धोखो तो दियो रे

अन्य राजस्थानी गाने :

गांधीजी के सपने को कीजिए साकार |
स्वच्छता हो देश मे आपार ||