Home Folk चौधरी (आवे ) 2 | Kusum Solanki | Lyrics

चौधरी (आवे ) 2 | Kusum Solanki | Lyrics

चिंटू प्रजापत और रीटा शर्मा ने चौधरी (आवे ) 2 गीत में अहम भूमिका निभाई हैं। गाने में आवाज कुसुम सोलंकी ने दी हैं । राजस्थानी एल्बम गीत के निर्माता रमेश राजकोट और निर्देशक चिंटू प्रजापत है। मारवाड़ी सॉन्ग का म्यूजिक मेवाड़ी ब्रदर्स ने कम्पोज किया हैं व गीत के प्यारे से बोल लखन चौधरी ने लिखे हैं।

अपनी मूंछो पर बल लगाकर चौधरी पंचो जा रहे हैं। तन पर अंगर की धोती और सिर पर सुरंगा साफा बांधे हुए फुटरे लग रहे हैं। अपने खेतो में जाकर उनकी देखभाल कर रहे हैं। पैरो में मोझड़िया पहरे हुए गले में फूलड़ाशोभित लग रहा हैं।

Choudhary (Aave) 2 Lyrics

घणो फूटरो लागे यो टरका सु चाले
देखो आवे हैं चौधरी मूँछ लगावे यो तावियो

धोली धोती प्यारी इन रे तन पर अंगर की
देखो आवे हैं चौधरी सिर पर सुरंगो साफों चुंदड़ी

Advertisement

पंगा में मोझड़िया इन रे भीनमाल री
देखो आवे हैं चौधरी गला सोवे फूलडो लाख रो

पंचो में बैठे यो तो कर हथाया
माया मोने हैं चौधरी हैं धप्पा में मिले हैं सवा लाख री

अन्य राजस्थानी गाने :

गांधीजी के सपने को कीजिए साकार |
स्वच्छता हो देश मे आपार ||