Home Folk चुड़ला पेरू तो तपे शरीर | Amba Rao, Sameer Chouhan | Lyrics

चुड़ला पेरू तो तपे शरीर | Amba Rao, Sameer Chouhan | Lyrics

2017 का नया राजस्थानी विवाह गीत चुड़ला पेरू तो तपे शरीर पी.आर.जी म्यूजिक एंड फिल्म्स की तरफ से शानदार प्रस्तुति हैं। गीत में आवाज अम्बा राव और समीर चौहान ने दी हैं। गीत का म्यूजिक रवि फुलेरा ने कम्पोज किया हैं।

बन्नी अपने राज बन्ना से नाराज हो रही हैं और बनसा से बोल नहीं रही हैं। जब बन्नी साड़ी पहनती है तो तेज धुप के कारण बन्नी का शरीर तप रहा हैं। बन्ना दिन में कॉलेज जाते हैं और कॉलेज से छुट्टी नहीं मिलने पर बन्ना बन्नी से नहीं मिल पाये हैं।

Chudla Peru To Tape Sharir Lyrics

चुडलो पहरु तो म्हारो तपो यो शरीर बन्ना
राते क्यों नहीं आया बनसा महला रा हुजूर

दिन दिन तो कॉलेजा में जातो राते आगी नींद बन्नी
छुट्टी कोनी मिली म्हारी बनड़ी थारा तकदीर
राते क्यों नहीं आया बनसा महला रा हुजूर

Advertisement

अरे साडीया पहनू तो म्हारो तपो यो शरीर बन्ना
राते क्यों नहीं आया बनसा महला रा हुजूर

दिन दिन तो फिल्मा में जातो राते आगी नींद बन्नी
छुट्टी कोनी मिली म्हारी बनड़ी थारा तकदीर

नथड़ी पहरु तो म्हारो तपो यो शरीर बन्ना
राते क्यों नहीं आया बनसा महला रा हुजूर

चुडलो पहरु तो म्हारो तपो यो शरीर बन्ना
राते क्यों नहीं आया बनसा महला रा हुजूर

दिन दिन तो बागा में जातो राते आगी नींद बन्नी
छुट्टी कोनी मिली म्हारी बनड़ी थारा तकदीर

अन्य राजस्थानी गाने :

भारत सरकार का इरादा |
सम्पूर्ण स्वच्छता का वादा ||