Home Folk चुन्नी उतार के | Raju Rawal | Lyrics

चुन्नी उतार के | Raju Rawal | Lyrics

2018 का नया राजस्थानी रोमांटिक गीत चुन्नी उतार के जिसमे आवाज राजू रावल ने दी हैं। गीत का म्यूजिक मेवाड़ी ब्रदर्स ने कम्पोज किया हैं। राजेश गोयल द्वारा निर्देशित गीत में माही जाट और रेखा रंगीली ने अपनी अहम भूमिका निभाई हैं। इस गीत के निर्माता कल्लू गुर्जर हैं।

गौरी अपनी गली में चुन्नी उतार के चल रही हैं और उसकी चढ़ती जवानी को देखकर आशिक उसके आगे पीछे घूमते रहते हैं। उसकी तिरछी नजर ने आशिको का दिल घायल कर रखा हैं और रात गौरी के ख्याबो ख्यालो में खोये रहते हैं। गौरी अपने घर से सोच विचार के बहार नहीं निकलती हैं।

Chunni Utar Ke Song Lyrics

म्हारी गली में मत आया कर चुन्नी उतार के
म्हारी गली में मत आया कर परफूम डालके
ऐ छोड़ेगी छोड़ेगी तू किसी ने मार के

मर जावे तेरी अंखिया से रे बस देखण की देरी रे
तने देख सब सोच रहया रे तू हलके में लेरी रे
अरे घर के बाहर आया सोच विचार के
छोड़ेगी छोड़ेगी तू किसी ने मार के

Advertisement

अरे सोच समझकर घूम्या कर रे दूजा का चोबारा में
सकल देखकर समझ्या कर रे या छोरा का इशारा ने
अरे कोई छोरा उठाके लेगा फरिकी डालके

अरे झोला शंकर को यो डीजे बाजे सोपरा में
मारुती जी तरह का इलाको बाजे हैं बाजार में
अरे झूला शंकर जी जोर बजावे ढलती रात ने
छोड़ेगी छोड़ेगी तू किसी ने मार के

अन्य राजस्थानी गाने :

विकसित राष्ट्र की हो कल्पना |
स्वच्छता को होगा अपनाना ||