Home Folk फागण महीनो प्यारो लागे | Rahul Roy | Lyrics

फागण महीनो प्यारो लागे | Rahul Roy | Lyrics

मुकेश सुराणा द्वारा निर्देशित मारवाड़ी सॉन्ग फागण महीनो प्यारो लागे पी.आर.जी म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत किया गया हैं। गीत में आवाज राहुल रॉय ने दी हैं। सॉन्ग का म्यूजिक काली पी.आर.जी ने कंपोज किया हैं।

परदेशी को फागुन महीना बहुत ही प्यारा लगता हैं और फागुन के मधुर गीत हुये अपने संग के साथियो के साथ चंग बजाते नाच रहा हैं। होली के मौके पर परदेशी रंग गुलाल लिये हुये अपने साथियो के साथ होली खेला रहा हैं। चंग बजाते हुए गांव के सारे लोग एक जगह होकर होली का त्यौहार बड़े ही धूम धाम से मना रहे हैं।

Fagan Mahino Pyaro Lage Song Lyrics

फागण महीनो प्यारो लागे फागण मैं तो गाउ जी
साथीड़ा रे सागे मैं तो चंग बजाउ जी के होली मन भावे
जियो जियो होली मन भावे साथीड़ा रे सागे मौज मनाऊ जी
के होली मन भावे

गऊ माता का गोबर सु मैं टेपडिया थपाई जी
हुराडो धोरा रे माथे होली मनाई जी के होली मन भावे
जियो जियो होली मन भावे साथीड़ा रे सागे मौज मनाऊ जी
के होली मन भावे

Advertisement

बड़ बोल्या री माला मैं तो घणा हेद सु बनाई जी
होली का रे घणा चाव सु मैं पहराई जी के होली मन भावे
जियो जियो होली मन भावे साथीड़ा रे सागे मौज मनाऊ जी
के होली मन भावे

गांव गली का लोग लुगिया भीड़ घणी जी आई जी
अरे चंग रा धमीड़ा माचे होली मगलाई जी के होली मन भावे
जियो जियो होली मन भावे साथीड़ा रे सागे मौज मनाऊ जी
के होली मन भावे

अन्य राजस्थानी गाने :

विकसित हो राष्ट्र हो हमारा |
स्वच्छ हो देश हमारा ||