Home Folk घाघरो बोनट पर बलखावे | Laxman Kumawat | Lyrics

घाघरो बोनट पर बलखावे | Laxman Kumawat | Lyrics

2018 का नया राजस्थानी सांग घाघरो बोनट पर बलखावे सुरत म्यूजिक फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत हुआ हैं। गीत का म्यूजिक मेवाड़ी ब्रदर्स ने कम्पोज किया हैं व गीत के निर्माता लक्ष्मण कुमावत हैं।

ब्यान अपने रंगीले ब्याई के साथ घूमने जा रही हैं और भरी जवानी को देखकर ब्याई का मिजाज गड़बड़ा रहा हैं। ब्याई उसे अपनी गाड़ी में बिठाकर पर गाड़ी की रेस बढ़ा रहा हैं। वही ब्यान अपने ब्याई से आम की मांग रही हैं और भरी गर्मी में मूंगफली खा रही हैं। ब्याई को ब्यान के गोरे गोरे गाल गुलाबी की तरह कोमल लग रहे हैं।

Ghagharo Bonat Par Bal Khave Song Lyrics

ब्यान जी की भरी जवानी छलक रही जवानी
घाघरो बोनट पर बलखावे ब्याई जी रेस बढ़ाई

ब्यान होगी दो जीवा की जाठा मांगे आम
भर गर्मी मांगे मूंगफली ब्यायन खूब चटकाई

Advertisement

ब्याई होग्यो मोटो ब्यान का हाड हाड निकल्या या
अरे करजा में राँधी राबड़ी पड़ोसन ने पिलाई

मोटा मोटा होठ जाणे गुल गुलाबल का
करे बाड़ा में तू बल खायो सोडा सु चलम जलाई

अन्य राजस्थानी गाने भी देखे :

स्वच्छता का रखिए ध्यान |
स्वच्छता से देश बनेगा महान ||