Home Folk गौरी म्हारी गांव री | Shambu Meena | Lyrics

गौरी म्हारी गांव री | Shambu Meena | Lyrics

कुमार गौरव और रेखा मेवाड़ा अभिनीत गीत गौरी म्हारी गांव री में आवाज शम्भू मीणा ने दी। गीत का म्यूजिक मेवाड़ी ब्रदर्स ने कम्पोज किया हैं। जे.एम.डी वेंचर्स की ओर से प्रस्तुत गीत का निर्देशन राजेश गोयल ने किया हैं।

आशिक को अपनी गांव वाली जानू बहुत ही प्यारी लगती हैं और जानू अपने हाथ में 4 जी मोबाइल लेके छत पर आशिक से बात करती रहती हैं। जब भी आशिक उसके घर के सामने से निकलता छत पर से जानू उसके अपनी तिरछी नजरो से देखती रहती हैं और उसने आशिक का दिल ख्याल कर रखा हैं। जानू की याद में आशिक रात-रातभर सो नहीं पाता हैं और उसके प्यार में आशिक दीवाना हैं।

Gori Mhari Ganw Ri Song Lyrics

अरे हाथा माही राखे एप्पल 4 जी मोबाइल
डागला पे बैठी करती म्हारा नंबर डायल या
अरे फर फर देखे ये या म्हारा आड़ा झाखती
प्यारी घणी लागे रे छोरी या म्हारा गांव का

रब्ब ने बना दी म्हारी जोड़ी सातरी
आज देखो या ता म्हारे आड़ी झाखरी
अरे फर फर देखे ये या म्हारा छोरी या म्हारा गांव का
प्यारी घणी लागे रे गौरी या म्हारा गांव का

Advertisement

गीला गीला बाल या तो छत पे सूखावे सै
म्हारी आड़ा झाख छोरी मीठी मुस्कावे सै
अरे वैरी गुड लागे प्रोफाइल मोबाइल
प्यारी घणी लागे रे गौरी या म्हारा गांव का

अरे या तो लागे बैरन म्हाने कालजा की कौर सै
जीवनभर को रिश्तो जुड़ग्यो प्यारी वाली डोर सै
मैं सुध बुध भूल्यो रे घर का में सारा काम की
प्यारी घणी लागे रे गौरी या म्हारा गांव का
सपना में आवे बैरण आधी रात की निंदा माही उठ मैं तो इस बात की
ओ पागल कह बुलावे रे छोरी घणी कामनी

अन्य राजस्थानी गाने :

स्वच्छता का रखिए ध्यान |
स्वच्छता से देश बनेगा महान ||