Home Folk हाथा में मेहंदी राची | Bharti Sharma | Lyrics

हाथा में मेहंदी राची | Bharti Sharma | Lyrics

भारती शर्मा की आवाज में हाथा में मेहंदी राची सॉन्ग बन्ना-बन्नी का राजस्थानी लोकगीत हैं। मारवाड़ी एल्बम का सॉन्ग अल्फ़ा म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत हुआ हैं। एल्बम गीत के लेखक प्रहलाद मीणा हैं। रेखा मीणा व राज अभिनीत गीत का निर्देशन निर्देशक चाँद ने किया हैं।

हाथो में मेहंदी लगाकर गौरी अपने पिया का इंतज़ार कर रही हैं और उसकी याद तड़प रही हैं। गौरी ने अपने गोरे हाथो में कलरफूल चुडिया पहन रही हैं और सपने में आकर पिया उसकी निंदिया उडा रहे हैं। गौरी अपने मस्तक पर पिया के नाम की बिंदिया लगा रही हैं और गौरी का दिल धड़कन केवल पिया के लिए धड़क रहा हैं।

Haatha Mein Mehandi Rachi Song Lyrics

हाथा में मेहंदी राची
साजन री जोवे बाठ x3

साजन री जोवे बाठ x2
हाथा में x2
हाथा में मेहंदी राची
साजन री जोवे बाठ

Advertisement

गोरा हाथ कलरफूल चूड़िया
साजन री उड़ावे निंदिया

माथे चाँद सूरज री बिंदिया
दम्के छे आधी रतिया x2
होवे झांझर की झरनाट x3
हाथा में x2
हाथा में मेहंदी राची
साजन री जोवे बाठ

काना का झुमका बोले
साजन रा भेद सब खोले
धानी चुनर के ओले
सजनी को हाथ टटोले x2
पायल के पड़गी आट x3
हाथा में x2
हाथा में मेहंदी राची
साजन री जोवे बाठ

साजन सजनी ने नचायो
अल्फ़ा का गीत बजायो
नज़ारा में प्रेम समायो
प्रहलाद घनो समझायो x2
सावन की मीठी छाट x3
हाथा में x2
हाथा में मेहंदी राची
साजन री जोवे बाठ

अन्य राजस्थानी गाने भी देखे :

स्वच्छता अपनाओ |
देश को विकास के पथ पर लाओ ||