Home Folk हरियों निम्बडो | Khemaram Ghayal, Mohit Raj | Lyrics

हरियों निम्बडो | Khemaram Ghayal, Mohit Raj | Lyrics

राजेश गोयल द्वारा निर्देशित मारवाड़ी सॉन्ग हरियों निम्बडो गोपाल म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत किया गया हैं। गीत में आवाज खेमराज और मोहित राज ने दी हैं। सॉन्ग का म्यूजिक मेवाड़ी ब्रदर्स ने कंपोज किया हैं व इस गीत में राखी रंगीली और कुमार गौरव एक साथ नजर आएंगे।

हरे नीम के पेड़ पर मोर बैठा हुआ मीठा मीठा बोल रहा हैं और उसकी मधुर आवाज ने सबका मन मोह लिया हैं। फागुन महीने में मोर एक पेड़ से उड़ता हुआ दूसरे पेड़ पर जा रहा हैं और अपने नृत्य से सबका मनोरंजन कर रहा हैं। घड़ा लेके गांव की महिलाये एक साथ पनघट पर पानी भरने जा रही हैं और एक बहु उसकी नंदल कड़वे बोल बोल रही हैं।

Hariyo Nimbdo Song Lyrics

अरे अरे हरियो नीमडो यो मोरियो मेवाती बोले हो हरियो नीमडो
ओले ओले हरियो नीमडो जियो जियो हरियो नीमडो
मोरियो मेवाती बोले हो हरियो नीमडो

नीमड़ा री लाम्बी रे डाली जिण पर बैठ्यो मोरियो
यो मोरियो मेवाती बोले रे फागण माहीने में
अरे अरे उडतो पंक्षीडो फागण में मीठा गीत सुनावे रे उडतो पंक्षीडो

Advertisement

फागणिया की ठंडी राता उडतो रे उडतो जावे रे
अरे पंक्षीडो तो मीठा मीठा फागण गावे रे उडतो पंक्षीडो
अरे उडतो पंक्षीडो फागण रा मीठा सुनावे रे उडतो पंक्षीडो
अरे अरे घडियो घड दे कारीगर तू तो अम्बर रहीजे रे

घडलो तो ई ले गयो पनघट पर चलियो रे
अरे घडियो तो भरता ही नणदल मौसा बोले हो फागण माहीने
अरे अरे घडियो घड दे कारीगर तू तो अम्बर रहीजे रे

अन्य राजस्थानी गाने :

स्वच्छता अपनाओ |
देश को विकास के पथ पर लाओ ||