Home Folk जाट तेजल | Babulal Kuchera | Lyrics

जाट तेजल | Babulal Kuchera | Lyrics

बाबूलाल कुचेरा की आवाज में जाट तेजल सॉन्ग तेजाजी का राजस्थानी भजन हैं। इस गीत का म्यूजिक मेवाड़ी ब्रदर्स ने कंपोज किया व निर्देशक सज्जन सिंह गहलोत हैं। मारवाड़ी एल्बम का सॉन्ग पी.आर.जी म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत हुआ हैं। एल्बम गीत के लेखक बाबूलाल कुचेरा हैं।

इस गीत में तेजाजी की महिमा का गुणगान किया गया हैं। खरनालिया गॉंव वीर तेजल का जन्म हुआ हैं और चलने पर धरती कम्पन कर रही हैं। तेजाजी शूरवीर, बलवान और तपधारी हैं। अपना वचन निभाने के लिए तेजल ने अपने प्राण तक त्याग दिए। बाबा की महिमा अपरम्पार हैं और दूर से दूर बाबा के दर्शन भक्त लोग आते हैं।

Jaat Tejal Song Lyrics

तेजाजी तू चाले तो धरती दूजे रे
जाट तेजल
जाट थारी बोली प्यारी लागे रे
जाट तेजल

एक गढ़ खरनाल्या रे माही जाट हुयो भारी
वो सुर वीर बलवान तेजल तपधारी
ओ सुरो बांकडली मूंछा वालो रे
जाट तेजल
जाट थारी बोली प्यारी लागे रे
जाट तेजल

Advertisement

एक लागे काळजे बोल भाभज रा भारी
ल्यौ उगतडे प्रभात पेमल ल्यारी
कँवर ने लीलण शृंगार रे
जाट तेजल
जाट थारी बोली प्यारी लागे रे
जाट तेजल
एक गुर्जर की अरडाई ने महला उभी
शूरो लड़े एकलो जाये ने रणभूमि
तेजाजी थारो रण में भालो फलके रे
जाट तेजल
जाट थारी बोली प्यारी लागे रे
जाट तेजल

अन्य राजस्थानी गाने भी देखे :

स्वच्छता है देश का महा अभियान |
स्वछता मे दीजिए अपना योगदान ||