Home Folk काची कली | Vinod, Dimple | Lyrics

काची कली | Vinod, Dimple | Lyrics

ट्विंकल वैष्णव ने काची कली गीत में अहम भूमिका निभाई हैं। इस गाने में आवाज विनोदडिंपल ने दी हैं। राजस्थानी एल्बम गीत के निर्माता और निर्देशक सज्जन सिंह गहलोत है। मारवाड़ी सांग पी.आर. जी म्यूजिक एंड फिल्म्स की नयी प्रस्तुति हैं। गीत के प्यारे प्यारे बोल ज्योति वासुदेव देव सिंह ने लिखे हैं जबकि म्यूजिक वाशु ने दिया हैं।

मीठी नीम की निम्बोली गौरी को कड़वी लग रही हैं और इस बात जिक्र वो अपने पिया से कर रही हैं। वो कली कचनार की तरह हैं लेकिन वो मुरझा गई हैं और उसके बड़े ही हठीले हैं जो गौरी सताते रहते हैं। पिया की नौकरी गौरी को पसंद हैं और उसकी एक अंगड़ाई ही एक लाखो की हैं। पिया की तिरछी ने गौरी ने का दिल घायल कर रखा हैं।

Kachi Kali Song Lyrics

मीठी नीम की निम्बोली जी भंवर कड़वी हुई जी मीठी नीम की निम्बोली
काची कलिया चमेली की सजन जी मुरझा गई जी मीठी नीम की निम्बोली

थारी दो कोड़ी की जी बलम जी या नौकरी जी थारी दो कोड़ी की जी बलम
म्हारी एक अंगड़ाई जी सजन लाखो भरी एक अंगड़ाई जी
मीठी नीम की निम्बोली जी भंवर कड़वी हुई

Advertisement

थारी नैन कटारी जी बलम जी तिरछी घणी थारी नैन कटारी जी
म्हारी जोध जवानी जी सजन घायल हुई जी सजन जी म्हारी जोध जवानी जी
मीठी नीम की निम्बोली जी भंवर कड़वी हुई

अन्य राजस्थानी गाने :

विकसित हो राष्ट्र हो हमारा |
स्वच्छ हो देश हमारा ||