Home Folk लीलण सिंगारे | Mangal Singh, Neelu Singh | Lyrics

लीलण सिंगारे | Mangal Singh, Neelu Singh | Lyrics

अंशुमन आर झा द्वारा निर्देशित राजस्थानी गीत लीलण सिंगारे देव म्यूजिक की ओर से प्रस्तुत किया गया हैं। यह तेजाजी का भक्तिमय भजन हैं जिसमे में आवाज मंगल सिंह और नीलू सिंह ने दी हैं । सॉन्ग का म्यूजिक मेवाड़ी ब्रदर्स ने कंपोज किया हैं व गीत के निर्माता मंगल सिंह व भाग चंदगुर्जर हैं।

पनेरा जाने के लिए तेजाजी अपनी घोड़ी लीलण का श्रृंगार कर रहे हैं उनकी भाभी उन्हें कड़वे कड़वे बोल बोल रही हैं और शूर वीर तेजाजी मन ही मन निराश हो रहे हैं। यह सब घटना तेजाजी अपनी माता को बता रहे हैं और अपनी सगाई के बारे में माता से पूछ रहे हैं। माता सचाई बताती हुई पनेरा गांव में रायमल जी के घर आँगन बचपन में शादी कर दी गई।

Lilan Singare Song Lyrics

अरे अरे लीलण सिंगारे तेजाजी शेर पनेरा जावे रे लीलण सिंगारे
अरे अरे लीलण सिंगारे तेजाजी शेर पनेरा जावे रे लीलण सिंगारे
ओले ओले रे लीलण सिंगारे तेजाजी शेर पनेरा जावे रे ओ लीलण सिंगारे
अरे अरे लीलण सिंगारे तेजाजी शेर पनेरा जावे रे लीलण सिंगारे

अरे कड़वा कड़वा बोल मती बोल भाभज म्हारी ये
अरे शूर वीर तेजा रे काळजे आग लागरी रे ओ लीलण सिंगारे
ओले ओले रे लीलण सिंगारे जाटा रो तेजो पनेरा जावे रे ओ लीलण सिंगारे

Advertisement

अरे भाभी रा तो बोल काळजे चुभ गया माता म्हारी ये
अरे कुणसी रे गांव में सगाई किनी रे लीलण सिंगारे
अरे अरे लीलण सिंगारे जाटा रो जायो पनेरा जावे रे ओ लीलण सिंगारे

गांव पनेरा रायमल जी रे करी सगाई थारी रे
अरे मामो जी परण्या तेजा पीला पोतड़ा ओ लीलण सिंगारे
अरे अरे लीलण सिंगारे तेजोजी शेर पनेरा जावे रे

अन्य राजस्थानी गाने :

विकसित राष्ट्र की हो कल्पना |
स्वच्छता को होगा अपनाना ||