Home Bhajan माताजी के बाज रहिया बाजा | Mangal Singh | Lyrics

माताजी के बाज रहिया बाजा | Mangal Singh | Lyrics

मंगल सिंह की मीठी आवाज़ में माता जी का नया राजस्थानी भजन माताजी के बाज रहिया बाजा। गाने का म्यूज़िक मेवाडी ब्रदर्स ने कंपोज किया। इस गीत के निर्माता मंगल सिंहऔर भागचंद गुर्जर हैं।

माता जी के मंदिर में ढोल बज रहे हैं।मैया रानी की ज़य ज़यकार लगाते हुए भक्त नाचते कूदते दरबार में आते हैं। मैया की तीनो लोको में महिमा भारी हैं। भक्त मैया के छप्पन भोग लगाते हैं और माता रानी भक्तो के बिगड़े काज को बनाती हैं।

Mataji Ke Baaj Rahiya Baja Song Lyrics

ऐ माता जी के मंदिर माहिया बाज रहिया बाजा
चामुंडा ऐ रानी अब तो बुलाया आजा
ऐ थारा जोरा जयकारा लागता ये
ऐ महारानी म्हारी आवे भक्त थारे नाचता रे

ऐ कलयुग माहये रक्षा करे तू माता
ऐ भक्ता री बिगड़ी बात बनावे कोई माता
अरे… नवरात्रा लागता रे
जगदम्बे रानी आवे भक्त थारे नाचता रे

Advertisement

ऐ थारा पर्चा जी भारी आयो नवरात्रा काजा
तीनू लोका के माही महिमा हैं भारी म्हारी माता
ऐ थारे नाम को ढंको बाजे रे
जगदम्बे रानी आवे भक्त थारे नाचता रे

ऐ थारे छप्पन भोग चढ़ाउ जगदम्बा ताजा
थारे भक्त उबा द्वारे अब तो आजा
ऐ थारे ढोल नगाड़ा बाजता रे
जगदम्बे रानी आवे भक्त थारे नाचता रे

अन्य राजस्थानी गाने :

गांधीजी के सपने को कीजिए साकार |
स्वच्छता हो देश मे आपार ||