Home Folk म्हारे हाथ रा झाला सु | Twinkle Vaishnav | Lyrics

म्हारे हाथ रा झाला सु | Twinkle Vaishnav | Lyrics

ट्विंकल वैष्णव की आवाज में म्हारे हाथ रा झाला सु सॉन्ग राजस्थानी लोकगीत हैं। इस गीत का म्यूजिक मुकेश चौधरी ने कंपोज किया व निर्देशक सज्जन सिंह गहलोत हैं। मारवाड़ी एल्बम का सॉन्ग पी.आर.जी म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत हुआ हैं। एल्बम गीत के बोल पारम्परिक हैं।

गौरी पिया के साथ साथ पीहर जाना चाहती हैं और अपने हाथ हिलाकर वो मोटर गाड़ियों को रुकवा रही हैं। गौरी रेल, गाड़ी में ना बैठकर अपने पिया के साथ हवाईजहाज क सैर करना चाहती हैं। गौरी के बच्चे रो रहे हैं और वो अपने पिया के खातिर दौड़ी दौड़ी चली आ रही हैं।

Mhare Haath Ra Jhala Su Song Lyrics

म्हारा हाथ रा झाला सु मोटर रुक जाई म्हारा मारू जी
कब तक म्हाने पीहरिये पहुचा दो
म्हारा हाथ रा झाला सु

रेल में ना बैठू बलम मैं गाड़ी ना बैठू
मैं तो थाके जोड़े हवाईजहाज़ में बैठू म्हारा बालमजी
कब तक म्हाने पीहरिये पहुचा दो

Advertisement

म्हारा हाथ रा झाला सु मोटर रुक जाई म्हारा मारू जी
कब तक म्हाने पीहरिये पहुचा दो
म्हारा हाथ रा झाला सु

छोरो भो रोवे बलम म्हारी छोरी भी रोवे
मैं तो थाकी खातिर झाला देती आउ बालम
कब तक म्हाने पीहरिये पहुचा दो

म्हारा हाथ रा झाला सु मोटर रुक जाई म्हारा मारू जी
कब तक म्हाने पीहरिये पहुचा दो
म्हारा हाथ रा झाला सु

अन्य राजस्थानी गाने भी देखे :

स्वच्छता है महा अभियान |
स्वछता मे दीजिए अपना योगदान ||