Home Folk नैणा निरखो नी | Twinkal Vaishnav | Lyrics

नैणा निरखो नी | Twinkal Vaishnav | Lyrics

नया राजस्थानी बन्ना – बन्नी गीत नैणा निरखो नी में आवाज ट्विंकल वैष्णव ने दी हैं जबकि गीत के बोल सज्जन सिंह गहलोत ने लिखे हैं। दिनेश माली ने गीत का म्यूजिक कम्पोज किया हैं। पी.आर.जी म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत गीत का निर्देशन सज्जन सिंह गहलोत ने किया हैं।

गौरी के डीजे पर नाचने पर सैया उसके नैन निरख रहे हैं और चंग बजाते हुए साहिब गौरी के साथ लुल लुल के नाच गा रहे हैं। सजनी के पिया बड़े ही होशियार हैं पर गौरी वो बड़े ही प्यारे और निराले लगते हैं। अपने सेज पर सो रही गौरी को पिया की याद सता रही हैं और साहिब के आने पर गौरी उसे अपने हिये से लगा रही हैं।

Naina Nirkho Ni Song Lyrics

ओ नैणा निरखो नी साहिब जी थारी गौरी नाचे रे
के नैणा निरखो नी
गौरी नाचे रे थारी गौरी नाचे रे थारी
गौरी नाचे रे थारी ट्विंकल नाचे रे थारी
ओ नैणा निरखो नी साहिब जी थारी गौरी नाचे रे
के नैणा निरखो नी

आवो जी साहिब जी थे तो चंग बजाओ रे
घूमर घालु साहिबा मैं लुळ लुळ नाचू रे
ओ नैणा निरखो नी साहिब जी थारी गौरी नाचे रे
के नैणा निरखो नी

Advertisement

बांकडली मूंछ्या रो साहिब घणो होशियार रे
साहिब म्हारो प्यारो लागे घणो निरालो रे
ओ नैणा निरखो नी साहिब जी थारी गौरी नाचे रे
के नैणा निरखो नी

चंदा थारी चांदनी सूती सेजा माही रे
आया म्हारा साहिबा मैं हिये लगाऊ रे
ओ नैणा निरखो नी साहिब जी थारी गौरी नाचे रे
के नैणा निरखो नी

अन्य राजस्थानी गाने :

स्वच्छता है महा अभियान |
स्वछता मे दीजिए अपना योगदान ||