Home Bhajan नीलो घोड़ो लागे फुटरो | Sohan Singh | Lyrics

नीलो घोड़ो लागे फुटरो | Sohan Singh | Lyrics

बाबूलाल सैनी द्वारा निर्देशित मारवाड़ी डीजे सॉन्ग नीलो घोड़ो लागे फुटरो अल्फ़ा म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत किया गया हैं। लेटेस्ट सांग 2018 में आवाज सोहन सिंह ने दी हैं। गीत के बोल बीरबल सिंह साईवाड ने तैयार किये हैं व गीत के निर्माता गोपाल सैनी हैं।

बाबा का नीला घोडा सभी भक्तो को प्यारा लगता हैं और बाबा की आँखों का वो तारा हैं। पवन वेग की तरह नीला घोडा गगन में उड़ रहा हैं और छम-छम नाचते हुए बाबा के दरबार की ओर प्रस्थान कर रहा हैं। भादवे की नवमी को बाबा का विशाल मेला रूणिचा में लगता हैं। लाखो भक्त बाबा के द्वार आते और बाबा के चरणों में अपना शीश निवाते हैं। बाबा भक्तो के बिगड़े काम बनाता हैं और पल में ही उन्हें कष्टमुक्त कर देता हैं।

Neelo Ghodo Laage Re Futro Song Lyrics

नीलो घोड़ो लागे रे फुटरो x2
हा (चल्यो रुणिचा माही रे
नाचतो जावे यो छम-छम) x2

बाबा की आंख्या को तारो x2
हा (नैन में जिँया श्याही रे
साथ में रहेवे हरदम) x2

Advertisement

पवन वेग ज्यूँ उड़े रे घोड़लियो x2
हा (झेड बाबा ने लगाई रे
पुचगयो रूनिचा में धाम) x2

रूनिचा को मेलो रामसा के चालो x2
हा (भादवा की नवमी आई रे
मेट दे बाबो सबका गम ) x2

सोहन सिंह बीरबल बाबा ने मनावे x2
हा (धुन अल्फ़ा कैसेट्स की रे
बाज रही डीजे पर धाम) x2

अन्य राजस्थानी गाने :

स्वच्छता है महा अभियान |
स्वछता मे दीजिए अपना योगदान ||