Home Folk पीहू पीहू मोरियो बोले छै | Chunnilal Bikuniya, Mahavir Nagori | Lyrics

पीहू पीहू मोरियो बोले छै | Chunnilal Bikuniya, Mahavir Nagori | Lyrics

पीहू पीहू मोरियो बोले छै डीजे मिक्स राजस्थानी सॉन्ग 2018 में आवाज चुन्नीलाल बिकुनिया और महावीर नागौरी ने दी हैं । मारवाड़ी एल्बम हिट्स ‘पीहू पीहू मोरियो बोले छै’ का गाना सी.एल.बी म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत किया गया हैं। चुन्नीलाल बिकुनिया ने गीत के बोल लिखे व गाने का म्यूजिक मेवाड़ी ब्रदर्स ने कम्पोज किया हैं।

वन का मोरिया अपनी मीठी – मीठी बोली से सुबह शाम सबका मनोरंजन कर रहा हैं और उसकी मीठी आवाज सबको प्यार लगती हैं। परदेश गया हुआ पिया अपनी गौरी से जल्दी आने का वादा करता है लेकिन पिया इन्तजार करते करते गौरी को आस टूट गई हैं। गौरी अपने पिया को जी जान से भी ज्यादा प्रेमी करती हैं और अब एक पल भी पिया के बिना रह नहीं पा रही हैं।

Pihu Pihu Moriyo Bole Chhe Song Lyrics

मोरियो बोले छै शाम रे सुबह ही पिहु पिहु
मोरियो बोले छै शाम रे सुबह ही पिहु पिहु
अरे म्हारा पिहु जी बसे परदेसा बा बिन किया जिऊ पिहु जियू पिहु,, पिहु
मोरियो बोले छै शाम रे सुबह ही पिहु पिहु
मोरियो बोले छै शाम रे सुबह ही पिहु पिहु

आ रे आवण ज़ावन कह गया रे कर गया कॉल अनेक
आ रे गिनता गिनता घीस गयी म्हारी आंगलिया री रेख
ओह,,, गिनता गिनता घीस गयी म्हारी आंगलिया री रेख
आ रे जा मोरिया संदेशो लाजे खठे बसे म्हारो पिहु पिहु जिऊ पिहु,, पिहु
मोरियो बोले छै शाम रे सुबह ही पिहु पिहु

Advertisement

मैं थाने बरजू साहिबा थे परदेसा मत जाए ज
आ रे परदेसा री कामनिया तने रखेली बिल माए
आ रे भूखी-तीसी रहू याद मे अन्न पानी ना पिउ पिहु पिहु जिऊ पिहु
मोरियो बोले च्छे शाम रे शुबहे ही पिहु पिहु
मोरियो बोले च्छे शाम रे शुबहे पिहु पिहु शुबहे ही पिहु पिहु
मोरियो बोले छै शाम रे सुबह ही पिहु पिहु

आ रे साजन साजन मैं करू जी साजन जीव री जड़ी
आ रे साजन लिखाउ चुड़ले जी वाचु घड़ी घड़ी
आ रे साजन लिखाउ चुड़ले जी वाचु घड़ी घड़ी
आ रे संग री सहेली या मोसा बोले खाते गयो थारो पिहु पिहु जिऊ पिहु
मोरियो बोले छै शाम रे सुबह ही पिहु पिहु

अन्य राजस्थानी गाने :

गांधीजी के सपने को कीजिए साकार |
स्वच्छता हो देश मे आपार ||