Home Folk पीळी पड़गी रसिया | Balli Mohanwadi | Lyrics

पीळी पड़गी रसिया | Balli Mohanwadi | Lyrics

नया राजस्थानी फागण गीत पीळी पड़गी रसिया पी.आर.जी म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से शानदार प्रस्तुति हैं। बल्ली मोहनवाड़ी ने गीत में आवाज दी हैं। गीत का म्यूजिक ए.बी ब्रॉस ने दिया हैं। सज्जन सिंह गहलोत द्वारा निर्देशित गीत के निर्माता मुकेश सुराणा हैं।

साजन की याद में गौरी पिली पड़ गयी हैं और पिया के बिना गौरी के दिन बड़ी ही कठिनाइयों में बीत रहे हैं। गौरी अपनी माँ की लाडली हैं और कब वो अपने साजन के घर आँगन जाएगी। गौरी का पिया परदेश में नौकरी करता हैं। साजन के लौट आने पर गौरी बड़ी ही खुश हैं और बिना अकल का पिया सेज पर से उठकर जा रहा हैं।

Pili Padgi Rasiya Song Lyrics

मैं तो पीळी पड़गी रसिया बैठी पीहर माही
बैठी पीहर माही बालमा बैठी पीहर माही
मैं तो पीळी पड़गी रसिया बैठी पीहर माही

ओ सारण परली ठिकरी या घीस घीस पतली हो
परदेशी गोरडी कोई झुर मूर पिंजर होइ
मैं तो पीळी पड़गी रसिया बैठी पीहर माही
बैठी पीहर माही बालमा बैठी पीहर माही
मैं तो पीळी पड़गी रसिया बैठी पीहर माही

Advertisement

हां फूल गुलाबी पोमचो कोई पड्यो बेरंगी होर
मैं मेरी माँ के लाडली कोई कद मुखलावो होइ
मैं तो पीळी पड़गी रसिया बैठी पीहर माही
बैठी पीहर माही बालमा बैठी पीहर माही
मैं तो पीळी पड़गी रसिया बैठी पीहर माही

आँगन पड़ियो काचरो कोई लावण से गुड़ जाए
अरे बिना अकल को साहिबो म्हारी सेजी से उठ जाई
मैं तो पीळी पड़गी रसिया बैठी पीहर माही
बैठी पीहर माही बालमा बैठी पीहर माही
मैं तो पीळी पड़गी रसिया बैठी पीहर माही

आंटी धोरा कांगसी कोई शीश झुखावा जाये
सामो मिलगयो साहिबो म्हारी छाती धड़का खाई
मैं तो पीळी पड़गी रसिया बैठी पीहर माही
बैठी पीहर माही बालमा बैठी पीहर माही
मैं तो पीळी पड़गी रसिया बैठी पीहर माही

अन्य राजस्थानी गाने :

विकसित हो राष्ट्र हो हमारा |
स्वच्छ हो देश हमारा ||