Home Bhajan पूरणेश्वर रा मंदिर में मोर बोले | Paras Solanki | Lyrics

पूरणेश्वर रा मंदिर में मोर बोले | Paras Solanki | Lyrics

पूरणेश्वर रा मंदिर में मोर बोले नया राजस्थानी भजन पी.आर.डी म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत हुआ हैं। गाने में आवाज पारस सोलंकी ने दी। जे.एम.डी ने गाने का म्यूजिक कम्पोज किया हैं। भवानी राव द्वारा निर्देशित गाने के निर्माता रमेश राठौड़ हैं।

पूरणेश्वर के मंदिर पर मोर मीठा मीठा बोल रहा हैं। बाबा का मंदिर नदी के किनारे पर बना हुआ शोभित लग रहा हैं। दर्शन के लिए भक्त दरबार में आते हैं और अपने कष्ट, दुःख से परेशान भक्त कष्टहरण की विनती लगाते हैं। बाबा के दरबार में ढोल नगाड़े और नौपत बजती हैं।

Puraneshvar Ra Mandir Mein Mor Bole Song Lyrics

अरे पूरणेश्वर का मंदिर माही मोर बोले
घर में सूती रे म्हारो जीवडलो डोले

बाप जी रा दर्शन ने चालो रे पिया
दुखड़ा सब मिट जासी दर्शन किया
अरे पूरणेश्वर का मंदिर माही मोर बोले
घर में सूती रे म्हारो जीवडलो डोले

Advertisement

नदी रे किनारे बणियो मंदिर भारी
दर्शन ने आवे थारे नर और नारी
अरे पूरणेश्वर का मंदिर माही मोर बोल
घर में सूती रे म्हारो जीवडलो डोले

धनाराम जी रा लाडला थे दुली बाई रा जाया
अरे पूरणेश्वर का मंदिर माही मोर बोले
घर में सूती रे म्हारो जीवडलो डोले

ढोल ने नगाड़ा थारे नौपत बाजे
डीजे रे ऊपर थारा भक्त नाचे
अरे पूरणेश्वर का मंदिर माही मोर बोले
घर में सूती रे म्हारो जीवडलो डोले

अन्य राजस्थानी गाने :

विकसित राष्ट्र की हो कल्पना |
स्वच्छता को होगा अपनाना ||