Home Bhajan रात सूती ने सपनो आयो | Bhawna Daiya | Lyrics

रात सूती ने सपनो आयो | Bhawna Daiya | Lyrics

भावना दैया की आवाज में रात सूती ने सपनो आयो सॉन्ग बाबा रामदेव जी का राजस्थानी भजन हैं। इस गीत का म्यूजिक नरेंद्र सिंह ने कंपोज किया व निर्देशक सज्जन सिंह गहलोत हैं। मारवाड़ी एल्बम का सॉन्ग पी.आर.जी म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत हुआ हैं।

रात को सो रही गौरी को सपना आ रहा हैं और सुबह जल्द उठकर वो बाबा रामदेव के द्वार जाने की तैयारी कर रही हैं। कलयुग में बाबा की लीला जग में न्यारी हैं और बाबा अजमल अवतारी हैं। गौरी अपने हाथो में ध्वजा लेकर बाबा का जयकारा लगाते हुये रूणिचा धाम की ओर प्रस्थान कर रही हैं और वहाँ पहुंचकर बाबा के चरणों में अपना शीश निवा रही हैं।

Raat Suti Ne Sapno Aayo Song Lyrics

रात सूती ने म्हाने सपनो जी आयो म्हाने हिचकी घणी आवे
बेगा चालो रुणिचे में म्हाने रामाधणी बुलावे

नाथद्वार के बाणो बाबो अजमल घर अवतारी
इण कलजुग में बाबा जी री लीला जग सु न्यारी

Advertisement

धोली धोली ध्वजा हाथ में गुण बाबे रा मैं गावसा
घिरत मिठाई और चूरमो बाबा थारे चढ़ावे

पैदल पैदल चाला रुणिचे जयकारो लगाव सा
भंडारा में डीजे बाजे दे दे ताली नाचा

अन्य राजस्थानी गाने :

गांधीजी के सपने को कीजिए साकार |
स्वच्छता हो देश मे आपार ||