Home Folk रहियो कंवारो रे | Ramesh Lohiya | Lyrics

रहियो कंवारो रे | Ramesh Lohiya | Lyrics

ट्विंकल वैष्णव ने रहियो कंवारो रे गीत में अहम भूमिका निभाई हैं। इस गाने में आवाज रमेश लोहिया ने दी हैं। राजस्थानी एल्बम गीत के निर्माता मुकेश सुराणा और निर्देशक सज्जन सिंह गहलोत है। मारवाड़ी सांग पी.आर.जी म्यूजिक एंड फिल्म्स की नयी प्रस्तुति हैं। गीत का म्यूजिक सुनील दाधीच ने कम्पोज किया हैं।

सब साथियो की शादी देख बन्ना अपनी शादी का जोशी जी मुहूर्त निकलवा रहे हैं और उनके चरणे में बैठे हुए हैं। बन्ना अपने पिता को समझाते समझाते हार चुके हैं और जोशी जी को अच्छा रिश्ता लाने के लिए बोल रहा हैं। बन्ना कब दूल्हे बनेगे कब घोड़ी चढेगे यही चिंता उन्हें बार बार सताये जा रही हैं।

Rahiyo Kanwaro Re song Lyrics

मैं रहियो कवारो रे टाबरियो भोलो रे
कद परणा सी म्हाने बावलियों म्हारो रे
मैं रहियो कंवारो रे टाबरियो भोलो रे
सगळा साथीड़ा परण्या हैं बेगा रे

जोशी जी थारा रे मैं पगल्या पुजू रे
थे दिन देखो चोखो परणा दो बेगो रे
मैं रहियो कंवारो रे टाबरियो भोलो रे
कद परणा सी म्हाने बावलियों म्हारो रे

Advertisement

बावलिये ने म्हारे कुण समझावे भाया
घर ढूंढे ने थारे समधन जी चोखो
मैं रहियो कंवारो रे टाबरियो भोलो रे
कद परणा सी म्हाने बावलियों म्हारो रे

कद बीन बणुला मैं कद घोड़ी चढला मैं
कद निरखु सासरियो कद होसी टाबरियो
मैं रहियो कंवारो रे टाबरियो भोलो रे
कद परणा सी म्हाने बावलियों म्हारो रे

अन्य राजस्थानी गाने :

गांधीजी के सपने को कीजिए साकार |
स्वच्छता हो देश मे आपार ||