Home Folk ठण्डी ठण्डी भाळ चाले | Prakash Gurjar | Lyrics

ठण्डी ठण्डी भाळ चाले | Prakash Gurjar | Lyrics

2018 का नया राजस्थानी डीजे सॉन्ग ठण्डी ठण्डी भाळ चाले अल्फ़ा म्यूजिक एंड फिल्म्स की तरफ से शानदार प्रस्तुति हैं। प्रकाश गुर्जर ने गीत में आवाज दी हैं। रेखा मीणा अभिनीत गीत का निर्देशन बाबूलाल सैनी हैं व गीत के निर्माता गोपाल सैनी हैं।

जेठ का महीना आने पर ठंडी ठंडी हवा चल रही हैं और दो भाइयो के बीच लड़ाई हो रही हैं। छोटी सी उम्र में गौरी की शादी मोर से हो जाने पर उसका ससुराल जंगल के बीचो बीच हैं और गौरी का पिता बड़ा ही बेईमान निकला हैं। गौरी के महल में किसी प्रकार को कोई वस्तु उपलब्ध नहीं हैं और घर में सोने को चार पाई तक नहीं हैं।

Thandi Thandi Bhal Chale Song Lyrics

ठण्डी ठण्डी भाल चाले जेठ के माह्या
अरे….
ठण्डी ठण्डी भाल चाले जेठ के माह्या
(दोन्यू भाया के लड़ाई हेगी पेट के माह्या रे
हेगी पेट के माह्या रे ) x2

छोटी सी ये बाई तेरा जंगल में डेरा
भाई रे..
छोटी सी ये बाई तेरा जंगल में डेरा
(तेरो बाप बड़ो बेईमान दिवायो तने मोर से फेरा
दिवायो तने मोर से फेरा) x2

Advertisement

नौखल्यो महल गौरी को टाट भी कोन्या
हरे हरे…
नौखल्यो महल गौरी को टाट भी कोन्या
(बाबुल असी जगह पराणादी सोबा तानी खाट भी कोन्या
सोबा तानी खाट भी कोन्या) x2

बीरबल सिंह अल्फ़ा कैसेट्स धूम मचावे छै रे
भाई रे..
बीरबल सिंह अल्फ़ा कैसेट्स धूम मचावे छै रे
(मीठा मीठा गीत रसीला यो प्रकाश गावे छै रे
यो प्रकाश गावे छै रे) x2

अन्य राजस्थानी गाने :

स्वच्छता है महा अभियान |
स्वछता मे दीजिए अपना योगदान ||