Home Folk डागलिये खड़ी थी में तो – सरिता खारवाल

डागलिये खड़ी थी में तो – सरिता खारवाल

साजन की याद में बार-बार तडपाने वाला गीत “डागलीये खड़ी थी में तो” सजनी की दुख भरी पुकार के साथ देखिए ये नया राजस्थानी गीत | जिसे की सरिता खारवाल की प्यार में दीवाना कर देने वाली आवाज़ में सुनिये और इंद्र शर्मा के लिखे शब्दो में सजनी की साजन के लिए मन में उमड़ रही प्रीत की ज्योत दिखाई देगी | साजन के लिए सजनी का शृंगार जिसमे तारा जड़ी चुनरी ओढकर तैयार बैठी हैं | नये एल्बम “पधारो म्हारे देश” के गीत का आनंद लीजिए MarwadiSong.in पर|

नवल बन्ना की प्रीत में सजकर छत पर बैठी सजनी को छिप कर देखता हैं | मन की बातो को सखियो के सामने खोलती बन्नी साजन को भोला भला बताती हैं ।
Also Watch: बन्ना मत जावो परदेश

Dagaliye Khadi Thi Mein Toh Song Lyrics

डागलिये खड़ी थी मे तो बाता जोउ एकली x2
(ऐ नवल बन्नो नखरालो म्हाने
छाने छाने देखली ) x2

(हे म्हारी सखिया काई थाने कहु
ओ बनडो नखरालो जी ) x2
(आँखाया सू डरपावे म्हाने
लागे भोलो भालो जी) x2
मंन री बाता किन रे कहु
मैं तो रहेगी एकली
ऐ नवल बन्नो……

Advertisement

(साथीडा संग गपो लड़ावे
आवे आधीरात को) x2
(पड़ोसा ने नित जगावे
करे बतन्गडो बात को)x2
किन ने कहेऊ कुन समझावे
आदत इन री देखली
ऐ नवल बन्नो……

(अरे रंग रंगलो बलम म्हारो
अंग सखियो भरतार की) x2
(घड़ी घड़ी मैं नीरखन लागो
हिवड़ा में लोहरगी) x2
(बंनासा बिन म्हारो जीवन सुनो
साला मयन री एकली)x2
ऐ नवल बन्नो……

बागा सू सुन फूलडा ल्याया
भंवर जु मंनरावे हो
घड़ी घड़ी म्हारी घेरो रखे
पल पल म्हाने सतावे हो
ये बार बार लगाई गहेनो
मैने कोनी या एकली
ऐ नवल बन्नो……
Source: YT

There are some errors in the lyrics by the chance, so you can intimate us if you find any error in the lyrical part.

Song: Dagaliye Khadi Thi Mein Toh
Album: Padharo Mhare Desh
Singer: Sarita Kharwal
Lyrics: Indra Sharma
Music Label: Sanskar Video Gallery

सजनी के प्रेम मिलन के तड़प से भरे Banna Banni Geet का आनंद लीजिए, भंवर जी के स्नेह में डूबे रहने की चाह से परिपूर्ण गीत को Marwadisong.in के साथ देखिए |