Home Folk Kesariya Balam – केसरिया बालम

Kesariya Balam – केसरिया बालम

विदेश गये हुये अपने साजन की याद में सजनी का गाया हुआ गीत “केसरिया बालम” जिसे उमर सिंह ने अपनी प्यारी और रसीली आवाज़ में गाकर इस गीत की और भी शोभा बढ़ा दी अपने साजन को हिरण की आँखो के समान प्यारा बताकर बलम को अपने देश के आने के लिए कहे रही तो साजन के इंतजार में सजनी के चिरमी एल्बम के इस गीत को देखिये |

सजनी अपने साजन के लिए इंतजार करते हूए उसे अपने देश पधारने के लिए कह रही हैं। अपने साजन के इंतजार में सजनी कई राते कई दिन गिनते गिनते गुज़ार दिये साजन की याद में दिन बिताते हुए बोल रही जैसे जल बिना मछली नही रहे सकती उसी प्रकार पिया आपकी सजनी आपके बिना नही रहे सकती हैं ।
Also Watch: Aapano Rajasthan by Baawale Chore Rajasthani Traditional Song

Kesariya Balam Song Lyrics

केसरिया बलम आवोनी पधारो म्हारे देश रे
पिया प्यारी रा ढोला थे आवोनी पधारो म्हारे देश रे
आवो म्हारे देश पधारो धणी रे देश रे
मृगा नैणी रा ढोला थे आवोनी पधारो म्हारे देश रे
पिया प्यारी रा ढोला थे आवोनी पधारो म्हारे देश रे

ढोला मारूधरी देश में सो निपजे नित रतानी X2
एक ढोलो दूजी मरवन सो तिजो कसमूर रंगी
ओजी आवो म्हारे देश ओजी पधारो धणी रे देश रे
मृगा नैणी रा ढोला थे आवोनी पधारो म्हारे देश रे

Advertisement

साजनी साजनी में करा साजनी जीव जड़ी X2
चुडले उपर रिखलेवा मैं पाछा घड़ी घड़ी
ओ पधारो धणी रे देश अजी आओ म्हारे देश रे
केसरिया बलम आवोनी पधारो म्हारे देश रे

सावनी आवनी के गया कर गया कावाले अनेकह X2
गिनता गिनता घस गयी म्हारि लाली आंगनिया री रेखी
ओ आवो म्हारे देश ओ पधारो धणी रे देश रे
पिया प्यारी रा ढोला थे आवोनी पधारो म्हारे देश रे

साजनी तू मत जानीयो तो बिछड़ा मोहे चेनी जे2
जैसे जल बिन मच्हरी मैं तन पट उबी निरेली
ओजी आवो ओजी पधारो धणी रे देश रे
मृगा नैणी रा ढोला थे आवोनी पधारो म्हारे देश रे

उमर सिंह की रसीली, दिल को छू जाए ऐसी आवाज़ में आपके लिए और भी राजस्थानी गीतो का भंडार जिन्हे आप Marwadisong.in पर देख सकते हैं ।