Home Folk म्हारो राजस्थान – अशोक चौहान

म्हारो राजस्थान – अशोक चौहान

राजस्थान की धरोवर के निरालेपन का संदेश देने वाला गीत “म्हारो राजस्थान” हमारे साहित्य की निशानी को दर्शाता हैं| अशोक चौहान की प्यारी आवाज़ में राजस्थान की मिट्टी की जीवनी किसानो के हाथो लिखते देखे| जांघिर बिस्मिल के बोलो के साथ नये एल्बम “म्हारो राजस्थान” का आनंद ले MarwadiSong.in पर Full HD में|

वीरो की जन्मभूमि राजस्थान पर कई शूर पुरुषो का जनम हुआ| ऐसे ही एक थे महाराणा प्रताप भी अपनी धरोवर के लिए मर मिटने वाले वीर |
Also Watch: Aapano Rajasthan by Baawale Chore

Mharo Rajasthan Song Lyrics

(माहा राजस्थानी यो म्हारो राजस्थान हैं
सबसू प्यारो न्यारो हें मतवालो राजस्थान हैं) x2
म्हारो राजस्थान हैं म्हारो राजस्थान हैं

खेती माणो खास हैं धंधो नित उठ जावा खेत में
कंधे हल बैला री जोड़ी टाबर लुगाई समेत में
कसमे काम करा मैं दिनभर थापन रोटी खावा ने
निप जावा हा खूब नाचने गीत खुश का गावा रे मैं
केसो किष्णो ऱम्जु हसनो ऐसा राजस्थान हैं

Advertisement

गाया भैसा खूब आपने दूध मज़ा रो आवे हैं
भर भर माटा छाछ फेरा सारो बिलजावे हैं
पीरदेवरे जावा मैं तो अपना देव मनवा मैं
बाजे ढोल चुरमा और नारियल रा भोग लगावा मैं
कोई माने ख्वाजा जी ने और कोई हनुमान ने

कई वीर जन्मा अठे अपनी धरती एडी हैं
महाराणा प्रताप सरीखा धा पन्ना री जेडी हैं
एक हें दुर्गादास वीर एक अमर सिंह राठौड हैं
बैरी आता कर हमलो तो मार गिरता राठौड रे
वीरा री धरती रे विजय आपनी राजस्थान हैं
इन गौरवशाली धरती पे माह सबने अभिमान हैं
Source: YT

There are some errors in the lyrics by the chance, so you can intimate us if you find any error in the lyrical part.

Song: Mharo Rajasthan
Album: Mharo Rajasthan
Singer:Ashok Chouhan
Lyrics: Jangir Bismil
Music Label: Nice Music Company

राजस्थान की पावन धरती पर शूर वीरो के जन्म के साथ किसानो के जीवन का महत्व Marwadisong.in पर देखिए| मारूधर की मिट्टी की खूशबू का आनंद हमारे नये नये गीतो के साथ लेते रहिए|