Home Folk फागण में गाया चरावण | Twinkal Vaishnav | Lyrics

फागण में गाया चरावण | Twinkal Vaishnav | Lyrics

सज्जन सिंह गहलोत निर्देशित फागण में गाया चरावण गाने का म्यूज़िक सुनील दाधीच ने कंपोज किया हैं | ट्विंकल वैष्णव फागुन राजस्थानी एल्बम का गाना ट्विंकल वैष्णव ने गाया हैं | इस 1080p HD गाने के बोल ट्रडीशनल हैं | PRG म्यूज़िक की ओर से रिलीज़ सॉन्ग का वीडियो काफ़ी अच्छा हैं |

Advertisement

Song: Fagan Mein Gaaya Charawan
Album: Twinkal Vaishnav Fagun
Singer: Twinkal Vaishnav
Music: Sunil Dadhich
Lyrics: Traditional
Director: Sajjan Singh Gehlot
Music Label: PRG Music And Film Studio

Click to watch Fagan Mein Gaaya Charawan Rajasthani song from album Twinkal Vaishnav Fagun NOW in full HD.

Video Thumbnail

FAGAN MAI GAAYA CHARAWAN | टविंकल वैष्णव | फागण 2017 | PRG FULL HD Video | Rajasthani Song

Advertisement

अन्य राजस्थानी गाने भी देखे :

Fagan Mein Gaaya Charawan Song Lyrics

सामला बाडा में म्हरी गाया रे खड़ी
म्हारी गाया ने चरावा कुन जासी रे
म्हारा साहिब ने कहिज़ो रे घर आजाजे
थे फाग़न का महीना में घर आजाजे

सामली साल में म्हारी गटी रे पड़ी
म्हारी गटी ने गमडको कुन देसी रे
म्हारा साहिब ने कहिज़ो रे घर आजाजे
थे फाग़न का महीना में घर आजाजे

सामला बड़ा में म्हारा बळद हैं बंधिया
बळदिया ने पानी कुन पासी रे
म्हारा साहिब ने कहिज़ो रे घर आजाजे
थे फाग़न का महीना में घर आजाजे

सामला बाडा में ससुर जी हैं बैठा
ससुर जी हुको कुन देसी रे
म्हारा साहिब ने कहिज़ो रे घर आजाजे
थे फाग़न का महीना में घर आजाजे

खेता में देवर हालियो घड़े
म्हारा देवरिया रे बहातो कन देसी रे
म्हारा साहिब ने कहिज़ो रे घर आजाजे
थे फाग़न का महीना में घर आजाजे

लेटेस्ट राजस्थानी गानो को देखने के लिए हमेशा याद रखे Marwadisong.in |