Home Folk छोरी अलबेली को चर्चो New Folk Song

छोरी अलबेली को चर्चो New Folk Song

शेखावटी और सुजानगढ़ में एक लड़की के नाच का मस्ती भरा राजस्थानी गीत “छोरी अलबेली को चर्चो” जिसमे बीकानेर की छोरी का धूम मचा देने वाला नाच वहाँ रहने वाले लोगो को इतना पसंद आता रहा हैं जिससे उसका नाम अलबेली छोरी रख दिया गया| उसकी कमर के ठुमके ने लोगो को दीवाना बना दिया| अलबेली छोरी के मस्ती भरे गीत को रामअवतार मारवाड़ी ने अपनी प्रेम भरी आवाज़ में गाया और इसके बोल अमृत राजस्थानी ने बड़े ही चटपटे अंदाज़ में लिखे|

नाचने के नये नये तरीक़ो से मशहूर छोरी जिसने बीकानेर, सुजानगढ़ और शेखावटी को अपने नाच से हिलाया| ऐसी अलबेली लड़की के डांस के आगे सभी लड़कियो का नाच फीका नज़र आए| उसके नाच से सभी लोगो में उसका बड़ा चर्चा होने से नाच में सभी में सवाशेर बन गयी|
Also Watch: Albeli Byan Baga Mein by Rani Rangili

Chhori Albeli Ko Charcho Song Lyrics

(शेखावटी सुजानगढ़ हिलायो बीकानेर रे छोरी या)x2
(छोरी या अलबेली इको चर्चो चारो मेर रे)x2

(शेखावटी माही छोरी डीजे उपर नाची
लगा कमर को ठुमको झीणो घुंघटो या खाची)x2
(धूम मचा दी जोरा या लगाई कोनी देर रे छोरी या)x2
(छोरी या अलबेली इको चर्चो चारो मेर रे)x2

Advertisement

(नाचती या नाचती सुजानगढ़ में बड़गी
घूमर वालो नाच दिखा सबको दिलडो हर लेती)x2
(नाचण में तो शेर घणी पण या सवाशेर रे छोरी या)x2
(छोरी या अलबेली इको चर्चो चारो मेर रे)x2

(बीकानेर में हरासर हवेली आगे नाची
इके आगे हार गयी छोरिया भी आछी आछी)x2
(देखन लाग्या लोग इको नाच फेर फेर रे छोरी या)x2
(छोरी या अलबेली इको चर्चो चारो मेर रे)x2

(सबसू न्यारी सबसू प्यारी छोरी या अलबेली
रामअवतार कहे या तो चक्का जाम करेली)x2
(हरासर को अमृत कहे छोरी या दिलेर रे छोरी या)x2
(छोरी या अलबेली इको चर्चो चारो मेर रे)x2

(शेखावटी सुजानगढ़ हिलायो बीकानेर रे छोरी या)x2
(छोरी या अलबेली इको चर्चो चारो मेर रे)x2

There are some errors in the lyrics by the chance, so you can intimate us if you find any error in the lyrical part.

Source: YT

Song: Chhori Albeli Ko Charcho
Singer: Ramavtar Marwadi
Album: Aaj Kal Ri Chhori
Lyrics: Amrit Rajasthani
Music Label: PRG Music and Films Studio

Marwadisong.in लाती हैं मस्ती और मनोरजन से भरपूर गीतो का खजाना जिसमे होता हैं धूम धड़ाके और मंन को आनंद में करने वाले गीतो का एक अलग सा रस तो अलबेली छोरी के नाच का आनंद उठाईए|