Home Bhajan गोरा भांग घोट के पीली | Rudraa, Rajan Sharma | Lyrics

गोरा भांग घोट के पीली | Rudraa, Rajan Sharma | Lyrics

रुद्रा और राजन शर्मा की आवाज में गोरा भांग घोट के पीली सॉन्ग शिव जी का राजस्थानी भजन हैं। इस गीत के बोल बीरबल सिंह साईवाड ने लिखे हैं व निर्देशक चाँद हैं। गीत के निर्मता बाबूलाल सैनी और गोपाल सैनी हैं। मारवाड़ी एल्बम का सॉन्ग अल्फ़ा म्यूजिक एंड फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत हुआ हैं।

गौरा रानी भांग का लोटा पीकर भोले बाबा के पास जा रही हैं और गौरा की चाल ढाल को देखकर शिव भोले को गौरा रानी के बारे सब कुछ पता चल चुका हैं। गौरा रानी ने भोले की होड़ करते हुए भांग पिली हैं और वो होश में नहीं हैं। भोले के बार बार मना करने पर भी गौरा रानी भांग का लोटा नहीं छोड़ रही हैं और ज्यादा भांग पीने से गौरा रानी की आँखे नीली हो गई हैं।

Gora Bhaang Ghot Kar Pili Song Lyrics

ए गोरा अइया कैया झूमे
म्हारे बर बर में क्यो लुमे x2
तू भी भांग घोट कर पीली ये
काई भांग घोट के पीली ये

म्हारा सुन भोला भंडारी
आज करली होड़ थारी x2
मैं तो भांग घोट कर पीली ये
मैं तो नशा में टल्ली होगी रे

Advertisement

ए गोरा रिस्क ले लियो भारी
हालत बिगड़ जाएली थारी x2
काइया पड़गी थारी आंख्या नीली ये
काई भांग घोट कर पीली ये

आज मजो ज़ोर को ले ली
भर भर लोट्या भांग पीली x2
म्हारा दिल में तसली होगी रे
में तो नशा में टल्ली होगी रे

सुन ले गोरा प्यारी
बुद्धी फिर गी काइया थारी x2
मत ना पीवे भांग गोरा रंगीली ये x2

म्हारा शिव भोला भरतार
हर दम पिवो भांग घूटार x2
थारे काई की खलबली होगी रे
में तो नशा में टल्ली होगी रे

म्हारी मत ना कर्ज़ो होड़
दे तू भांग धतुरो छोड़ x2
थारा भला की कहेऊ छू सुन गेली ये
काई भांग घट कर पीली ये

राजन बीरबल सिंह गावे
मिलकर शिव भोला ने ध्यावे x2
धूम अल्फ़ा की तो गली गली होगी रे
मैं तो नशा में टल्ली होगी रे

अन्य राजस्थानी गाने :

स्वच्छता है देश का महा अभियान |
स्वछता मे दीजिए अपना योगदान ||