Home Folk काला चश्मा | Lali Gujari, Sohan Singh | Lyrics

काला चश्मा | Lali Gujari, Sohan Singh | Lyrics

अल्फ़ा म्यूज़िक & फिल्म्स के बैनर तले बने एल्बम ‘काला चश्माला’ का नया सॉन्ग प्रस्तुत हो गया है। काला चश्मा सॉन्ग को लाली गुज़री और सोहन सिंह ने मिलकर गाया है। ‘काला चश्मा’ एक राजस्थानी रोमांटिक सॉन्ग है, जिसे प्रहलाद मीणा ने लिखा है | इस सॉन्ग में निर्देशक बाबूलाल सैनी एव निर्माता गोपाल सैनी हैं |

Song: Kala Chashma
Album: Kala Chashmala
Singer: Lali Gujari, Sohan Singh
Lyrics: Prahlad Meena
Director: Babulal Saini
Producer: Gopal Saini
Music Label: Alfa Music & Films

Click to watch Kala Chashma Rajasthani song from album Kala Chashmala NOW in full HD.

Advertisement

अन्य राजस्थानी गाने भी देखे :

Kala Chashma Song Lyrics

काला चश्माळा की नज़र लागी रे म्हारी कमरिया दुखे रे
छोरा म्हारी कमरिया दुखे रे
कमरिया दुखे रे म्हारी कणिया दुखे रे
काला चश्माळा की नज़र लागी रे म्हारी कमरिया दुखे रे
छोरा म्हारी कमरिया दुखे रे

चार टका को नखरो जी पर करडी होरी गाड़ी
म्हारी माँ के मैं ही लाडली आगे चाल अनाड़ी
काला चश्माळा की नज़र लागी रे म्हारी कमरिया दुखे रे
छोरा म्हारी कमरिया दुखे रे
कमरिया दुखे रे म्हारी कणिया दुखे रे
काला चश्माळा की नज़र लागी रे म्हारी कमरिया दुखे रे
छोरा म्हारी कमरिया दुखे रे

थारे कोडे कसर पड़ी छै बात बिगाड़े सारी
अइया बोले बोल जिया मैं मोल ल्याडी थारी
काला चश्माळा की नज़र लागी रे म्हारी कमरिया दुखे रे
छोरा म्हारी कमरिया दुखे रे
कमरिया दुखे रे म्हारी कणिया दुखे रे
काला चश्माळा की नज़र लागी रे म्हारी कमरिया दुखे रे
छोरा म्हारी कमरिया दुखे रे

थारी जिया की घनी रे फिरे मैं परणू दो की चार
सारी अकड़ हवा हो जासी मत कर घनी आवार
काला चश्माळा की नज़र लागी रे म्हारी कमरिया दुखे रे
छोरा म्हारी कमरिया दुखे रे
कमरिया दुखे रे म्हारी कणिया दुखे रे
काला चश्माळा की नज़र लागी रे म्हारी कमरिया दुखे रे
छोरा म्हारी कमरिया दुखे रे

घर वाली बनजा तू म्हारी नखराली गणगौर
थारे बिना म्हारे ई दुनिया में कोई नही छै ओर
काला चश्माळा की नज़र लागी रे म्हारी कमरिया दुखे रे
छोरा म्हारी कमरिया दुखे रे
कमरिया दुखे रे म्हारी कणिया दुखे रे
काला चश्माळा की नज़र लागी रे म्हारी कमरिया दुखे रे
छोरा म्हारी कमरिया दुखे रे

अल्फ़ा कॅसेट ले तो काला चश्माळा ने बोल
सोहन सिंह प्रहलाद लाली जाने प्रेम को बोल
काला चश्माळा की नज़र लागी रे म्हारी कमरिया दुखे रे
छोरा म्हारी कमरिया दुखे रे
कमरिया दुखे रे म्हारी कणिया दुखे रे
काला चश्माळा की नज़र लागी रे म्हारी कमरिया दुखे रे
छोरा म्हारी कमरिया दुखे रे

काला चश्मा गाना आपको केसा लगा ? इस तरह के और राजस्थानी गानो का आनंद लेने के लिए देखते रहिए Marwadisong.in |

विकसित हो राष्ट्र हो हमारा |
स्वच्छ हो देश हमारा ||