Home Folk चाल भाईडा रे | Chunnilal Bikuniya, Mahavir Nagori | Lyrics

चाल भाईडा रे | Chunnilal Bikuniya, Mahavir Nagori | Lyrics

चाल भाईडा रे , जो एक लेटेस्ट Dj सॉन्ग हैं, सी.एल.बी म्यूजिक एंड फिल्म्स की नयी पेशकश हैं। इस गाने में आवाज चुन्नीलाल बिकुनिया और महावीर नागोरी ने दी हैं। जबकि गाने का म्यूजिक मेवाड़ी ब्रदर्स ने कंपोज किया। सत्यनारायण थोरी, कज्जुराम बिकुनिया, विक्की सैनी और पायल राजस्थानी ने गीत में अहम भूमिका निभाई हैं ।

बरसात होने पर किसान अपने संग के भाइयो के साथ खेत में फसल बोने जा रहा हैं और वो इंद्र राजा से बड़ा ही खुश हो रहा हैं। झीरमीर – झीरमीर वर्षा का आनंद लेते हुए किसान अपने खेतो में बीज बो रहा हैं और नीले गगन में बिजलिया चमक रही हैं। बागो में कोयलिया मीठी बोल रही हैं और मोर अपने पंखो को फैलाये नचा गा रहा हैं।

Chaal Bhaida Re Song Lyrics

ए,,, सूरज की उगाली वा ए,,, राम री रुकाली वा
ए,,,गरजो इंद्र राजा वो मनावे सूलो सावन ने वो
अरे चाल भाईडा रे खेता में रे खेता में
कोई हाली हालीटो करल्या रे अब बीज बाजरी बहावा रे
खेता के माही चाला रे खेता मे

अरे चाल भाइदा रे खेता में रे खेता में
अरे चाल भाईडा रे खेता में रे खेता में
कोई हाली हालीटो करल्या रे अब बीज बाजरी बहावा रे
खेता के माही चाला रे खेता में

Advertisement

ए,,, वो अरे या तो ऑडी दिशा में वो
ए,,,बरस्यो इंद्र राजा वो झरमर-झरमर बरस्यो वो
गाजे इंद्र राजा वो अरे चाल भाईडा रे
भादु में रे भादु में कोई रिमझिम मेवा बरसे रे
खेता में करसो हर्षे रे या काली बादली गरज रे खेता मे

ए,,, वो बागा री कुंचिया वो ठेठो वन माली जी
माली रा आड़ा आवीडा मालणी रा जायोडा रे
अरे सुन माली का रे बागा की रे बागा की
थे खिड़किया कोई खोलो रे बागा की कुंची देद्यो रे
जकान को जायो कहेवे रे माली का रे माली का

अन्य राजस्थानी गाने :

विकसित राष्ट्र की हो कल्पना |
स्वच्छता को होगा अपनाना ||