Home Folk केसरीयो | Kiran Kumawat | Lyrics

केसरीयो | Kiran Kumawat | Lyrics

2017 का नया राजस्थानी विवाह गीत केशरियो जिसमे आवाज़ किरण कुमावत ने दी हैं। गीत के बोल पारंपरिक हैं। गीत का म्यूज़िक दिनेश माली ने कंपोज किया हैं। मारवाड़ी एल्बम का सॉन्ग पी.आर.जी म्यूज़िक आंड फिल्म की तरफ से शानदार प्रस्तुति हैं।

बनड़ी अपने बन्ने की बाट जो रही हैं और जल्दी से महल में बुला रही हैं। नीले आसमान में बिजली चमक रही हैं। बन्नी कभी अपने बन्ने को कभी बाग में बुलाती तो कभी अपने पास बुलाती हैं।

Kesariyo Song Lyrics

बन्नो म्हारो केसरीयो हजारी गुल रो फूल
आंबा में चमके बिजलिया
बन्नो म्हारो केसरीयो हजारी गुल रो फूल
चंपेसी सी इक इक पांखडिया

बन्ना थे तो झटके ही माय बेगा पधारो
बनडी जी जोवे बाटलडी
बन्नो म्हारो केसरीयो हजारी गुल रो फूल
चंपेसी सी इक इक पांखडिया

Advertisement

बन्ना थे तो झटके ही महला बेगा पधारो
बनडी जी जोवे बाटलडी
बन्नो म्हारो केसरीयो हजारी गुल रो फूल
चंपेसी सी इक इक पांखडिया

बन्ना थे तो झटके ही बागा बेगा पधारो
बनडी जी जोवे बाटलडी
बन्नो म्हारो केसरीयो हजारी गुल रो फूल
चंपेसी सी इक इक पांखडिया

अन्य राजस्थानी गाने :

स्वच्छता का रखिए ध्यान |
स्वच्छता से देश बनेगा महान ||