Home Folk सुवो बैरी जुलम करयो | Prakash Chand Gurjar | Lyrics

सुवो बैरी जुलम करयो | Prakash Chand Gurjar | Lyrics

2018 का नया राजस्थानी रोमांटिक गीत सुवो बैरी जुलम करयो अल्फा म्यूजिक एंड फिल्म्स की तरफ से शानदार प्रस्तुति हैं। गीत में आवाज प्रकाशचंद गुर्जर ने दी हैं जबकि गीत के बोल बीरबल सिंह ने लिखे हैं। रेखा शेखावत व रेखा मीणा अभिनीत गीत का निर्देशन बाबूलाल सैनी ने किया हैं। इस गीत के निर्माता गोपाल सैनी हैं।

बैरी सुवा गौरी के घर आँगन आकर उसे बहुत तंग कर रहा हैं गौरी उसकी हरकतों से परेशान हो चुकी हैं। लेकिन फिर भी वो अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा हैं। कभी वो उसकी चुनर के ऊपर तो कभी उसके लहंगे पर बैठ जाता हैं और गौरी उसे बार बार घर आँगन से उडा रही हैं।

Suvo Bairi Julam Karyo Song Lyrics

उड़ उड़ सुवो म्हारी चुंदड़ माळे बैठ्यो x2
म्हारी चुंदड़ी को कर दियो नाश सुवो बैरी गजब करयो
गजब करयो रे बैरी जुलम करयो
म्हारी चुंदड़ी को कर दियो नाश सुवो बैरी गजब करयो
म्हारी चुंदड़ी को कर दियो नाश सुवो बैरी जुलम करयो

उड़ उड़ सुवो म्हारा कब्ज़ा माळे बैठ्यो x2
म्हारा बटना को कर दियो नाश सुवो बैरी गजब करयो
गजब करयो रे बैरी जुलम करयो
म्हारी चुंदड़ी को कर दियो नाश सुवो बैरी गजब करयो
म्हारी चुंदड़ी को कर दियो नाश सुवो बैरी जुलम करयो

Advertisement

उड़ उड़ सुवो म्हारा लहंगा माळे बैठ्यो x2
म्हारी लावण को कर दियो नाश सुवो बैरी गजब करयो
गजब करयो रे बैरी जुलम करयो
म्हारी चुंदड़ी को कर दियो नाश सुवो बैरी गजब करयो
म्हारी चुंदड़ी को कर दियो नाश सुवो बैरी जुलम करयो

उड़ उड़ सुवो म्हारा आमा माळे बैठ्यो x2
काची केरया को करदियो नाश
गजब करयो रे बैरी जुलम करयो
म्हारी चुंदड़ी को कर दियो नाश सुवो बैरी गजब करयो
म्हारी चुंदड़ी को कर दियो नाश सुवो बैरी जुलम करयो

बीरबल सिंह सुवा बैरी ने उड़ावे
अल्फ़ा कैसेट्स में गावे छै प्रकाश सुवो बैरी गजब करयो
गजब करयो रे बैरी जुलम करयो
म्हारी चुंदड़ी को कर दियो नाश सुवो बैरी गजब करयो
म्हारी चुंदड़ी को कर दियो नाश सुवो बैरी जुलम करयो

अन्य राजस्थानी गाने :

विकसित हो राष्ट्र हो हमारा |
स्वच्छ हो देश हमारा ||