Home Folk घोड़ी रे पगल्या में पायल बाजे | Gajendra Ajmera | Lyrics

घोड़ी रे पगल्या में पायल बाजे | Gajendra Ajmera | Lyrics

नया राजस्थानी विवाह गीत घोड़ी रे पगल्या में पायल बाजे जिसे गजेंद्र अजमेरा, मुकेश, सुनील और खेमराम ने गाया हैं। गाने का म्यूजिक मेवाड़ी ब्रदर्स ने कम्पोज किया हैं। “घोड़ी रे पगल्या में पायल बाजे” एल्बम गीत के निर्माता व निर्देशक गजेंद्र अजमेरा हैं।

घोड़ी के पांव में पायल छम छम बज रही हैं और उस पर बालक बनड़ा बैठा हुआ हैं। घोड़ी को उड़द की दाल जिमा रहे हैं और लगाम छड़ी हीरो मोतियो से जड़ी हुई हैं। घोड़ी को बाबो सा लेके आये हैं और माता जी उसका श्रृंगार कर रही हैं।

Ghodi Re Pagliya Mein Payal Baje Song Lyrics

घोड़ी रे पगल्या में पायल बाजे x2
म्हारो बालक बनड़ो छोटो ऐ
घोड़ी अदर अदर पंग मेलो
लगाम झड़ी हीरा मोत्या की
थाने जीमऊ उड़द की दाल ये
घोड़ी घुघरा बजावो ये

घोड़ी ऐ बाबोसा मोलावे ये
माता जी लाड श्रृंगारी ये
घोड़ी अदर अदर पंग मेलो
घोड़ी घुघरा बजावो ये

Advertisement

ऐ घोड़ी काकोसा मोलावे
काकीसा लाड श्रृंगारी ये
घोड़ी अदर अदर पंग मेलो

घोड़ी ऐ वीरो सा मोलावे
भोजाई सा लाड श्रृंगारी ऐ
घोड़ी अदर अदर पंग मेलो

अन्य राजस्थानी गाने :

विकसित राष्ट्र की हो कल्पना |
स्वच्छता को होगा अपनाना ||