Home Folk महेंदी मारवाड़ री राची | Gayatri Upadhyay | Lyrics

महेंदी मारवाड़ री राची | Gayatri Upadhyay | Lyrics

2017 का नया राजस्थानी विवाह गीत महेंदी मारवाड़ री राची में आवाज गायत्री उपाध्याय ने दी हैं। “महेंदी मारवाड़ री राची” मारवाड़ी एल्बम का गीत श्री कृष्णा कैसेट्स की तरफ से शानदार प्रस्तुति हैं। गीत के निर्माता तरुण हसनी हैं।

मारवाड़ की मेहंदी अपने हाथो में लगाकर मरवण लहंगा पहनके नाच रही हैं और हाथी पालकी में बैठकर दिल्ली घूमने जा रही हैं। उसके हाथो में लाख का चूड़ा और नाक में नथड़ी सोवनी लग रही हैं। घूंघट में बन्नी प्यारी लग रही हैं और उसके घूंघट का पट सैया जी खोलेंगे।

Mahandi Marwadi Ri Rachi song Lyrics

(मेहंदी मारवाड़ री रांची रे पहर घाघरो
ऊंचो मरवण नाचण लागी रे ) x2

नीबू ना खाई नारंगी खाटी कैर खाई के तीरो
हाथ झाल रो गजबण ढोलन देखण जासी मेड़ो
(मेहंदी मारवाड़ री रांची रे पहर घाघरो
ऊंचो मरवण नाचण लागी रे ) x2

Advertisement

हाथी पाल पालकी घोड़ो नदिया फाड़के दिल्ली
बैठ बछेरी उम्र गौरी घूमन जासी दिल्ली
(मेहंदी मारवाड़ री रांची रे पहर घाघरो
ऊंचो मरवण नाचण लागी रे ) x2

कडला पहर कंदोरो पहर, पहर लाखा छनियो
सवा लाख री नथड़ी इन री खोलेला सांवरियो
के नथड़ी के घुंघटा के लट पट खोलेला सांवरियो
(मेहंदी मारवाड़ री रांची रे पहर घाघरो
ऊंचो मरवण नाचण लागी रे ) x2

Video Thumbnail

राजस्थानी सुपरहिट लोकगीत – Mahandi Marwadi Ri Rachi | Ft. Nutan Gahlot | सभी कर रहे हैं पसंद

अन्य राजस्थानी गाने :

स्वच्छता अपनाओ |
देश को विकास के पथ पर लाओ ||